तुम “Shaw” नहीं देखा

You did not see

पिछले 2 सालों से भारतीय क्रिकेट टीम जिस ओपनर की तलाश कर रही थी आज वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट में भारत की वो तलाश पूरी होती नजर आ रही है। हम बात कर रहे हैं पृथ्वी शॉ की 18 साल की छोटी-सी उम्र में डेब्यू करने वाले इस खिलाड़ी ने आज सचिन तेंदुलकर की याद दिला दी। मात्र 18 वर्ष की आयु में अपना पहला टेस्ट शतक पूरा करके उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में एक ज़ोरदार दस्तक दे दी है। ऐसा लग रहा है कि वो आने वाले समय में सभी टीमों के लिए बड़ा खतरा साबित होने वाले हैं। लंच के थोड़ी देर बाद उन्होंने 98 गेंद में शतक पूरा किया है और अभी बैटिंग कर रहे हैं लेकिन उनकी असली परीक्षा भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे में होने वाली है, जहां पर ऑस्ट्रेलिया के सामने उनके प्रदर्शन से ही उनका आगे का कैरियर निर्धारित होगा।

बहरहाल, इस नए खिलाड़ी के शानदार प्रदर्शन ने क्रिकेट प्रेमियों में एक नई उम्मीद तो जगा ही दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here