मुंबई: सुरेश रैना और गुरू रंधावा को गिरफ़्तारी के बाद मिली बेल, जानें क्या था पूरा मामला

पार्टी

कोरोना काल में सरकार के निर्देशों का उल्लंघन करते हुए पार्टी कर रहे पूर्व क्रिकेटर सुरेश रैना समेत कई सारे सेलिब्रिटीज पर एक्शन हुआ है। 34 लोगों को मुंबई के एक क्लब में पार्टी के दौरान गिरफ्तार किया गया। जिन 34 लोगों को गिरफ्तार किया गया, उनमें क्रिकेटर सुरेश रैना, गायक गुरु रंधावा के अलावा कई और लोग भी शामिल थे। हालांकि, सुरेश रैना और गुरु रंधावा को बाद में बेल मिल चुकी हैं।

कोरोना काल में नियमों का हुआ उल्लंघन

पार्टी

ये क्लब पार्टी मुंबई में एयरपोर्ट के पास मौजूद JW मैरियट होटल में चल रही थी, जिसमें कोरोनाकाल में सरकार के द्वारा दी गई गाइडलाइन्स का पालन नहीं किया गया था। इन सभी लोगों के खिलाफ मुंबई में एफआईआर दर्ज हुई है। जिसमें सुरेश रैना और रंधावा भी शामिल थे। पुलिस ने इस क्लब में रेड डाली और इन सभी 34 लोगों को गिरफ्तार कर लिया था। जानकारी के मुताबिक नाइट कर्फ्यू के बाद भी इस क्लब में बेहद हाई प्रोफाइल पार्टी चल रही थी। मुंबई में कोरोना महामारी के कारण नाइट कर्फ्यू लागू है। इसके बाद भी क्लब में करीब साढ़े तीन बजे तक पार्टी चल रही थी और इसी दौरान पुलिस ने यहा छापेमारी की।

सुरेश रैना सहित पूरी टीम ने दिया बयान

सुरेश रैना और उनकी टीम के द्वारा एक बयान दिया गया है कि यह पूर्व क्रिकेटर शूटिंग के लिए मुंबई में थे और उन्हें इस प्रोटोकॉल से सम्बंधित किसी भी तरह की जानकारी नहीं थी। रैना की टीम ने बयान में कहा, ‘सुरेश रैना बस एक शूट के लिए मुंबई में आए थे,तभी उनके एक मित्र ने उन्हें डिनर पार्टी के लिए आमंत्रित किया था। मुंबई में उन्हें गाइडलाइन्स की जानकारी नहीं थी.’ रैना की टीम ने बयान में ये भी कहा कि, ‘इस घटना पर रैना ने तुरंत अधिकारियों द्वारा निर्धारित प्रक्रियाओं का अनुपालन किया। साथ ही अनजाने में हुई इस भूल पर उन्हें पछतावा हो रहा है। वह हमेशा नियमों व कानूनों का पालन करते हैं और भविष्य में भी ऐसा करना अवश्य जारी रखेंगे।’

आगे पढ़ें-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here