सोशल मीडिया की वायरल “कवयित्री” अंकिता सिंह

सोशल मीडिया की वायरल
सोशल मीडिया की वायरल "कवयित्री" अंकिता सिंह

आज के दौर में जन सामान्य तक पहुँचने एवं उनसे जुड़ने के लिए सोशल मीडिया सबसे अच्छा जरिया है। डिजिटल दुनिया में सोशल मिडिया कुछ ही समय में एक क्रांति की तरह उभर कर आया है| जिसमें फेसबुक, यूट्यूब जैसे सोशल मीडिया के माध्यमों का योगदान सबसे अधिक है| इस नई क्रांति के प्रभाव से हिंदी साहित्य जगत भी अछूता नहीं रहा है|

सोशल मीडिया के जरिये प्रसिद्ध हुए विभिन्न उदाहरण आज हमारे सामने हैं जिन्हें इसके सकारात्मक परिणाम स्वरुप दुनिया में पहचान मिली है| दुनिया में दो तरह की सिविलाइजेशन का दौर शुरू हो चुका है, वर्चुअल और फिजीकल| सोशल नेटवर्किंग साइट्स संचार, सूचना के साथ-साथ लोगों से जुड़ने का एक सशक्त जरिया है|

सोशल मीडिया के माध्यम से हिंदी काव्य साहित्य में इन दिनों एक नाम ‘अंकिता सिंह’ तेज़ी से उभरकर सामने आया है| अंकिता सिंह काव्य पाठ के मंचो पर प्रसिद्ध कवियित्रियों में से एक हैं। इसके साथ ही वह भारत की पहली ऐसी कवियित्री हैं जिनका पेज ‘फेसबुक’ द्वारा वेरीफाई कर दिया गया है। उनके इस सफर को सफल बनाने व सपनों को पंख देने में सबसे अधिक और महत्वपूर्ण भूमिका सोशल मीडिया की रही। आज फेसबुक, यूट्यूब आदि पर उनके लाखों फॉलोवर्स हैं|

अंकिता सिंह जी की कविताओं को पहचान दिलाने की दिशा में बतौर डिजिटल पार्टनर “डिजिटल खिड़की” द्वारा महत्वपूर्ण योगदान दिया गया। डिजिटल खिड़की ने अपने डिजिटल समर्थन के साथ सोशल मीडिया के सभी मंचों पर बेहद ही शानदार कार्य किया है। अंकिता सिंह जी के पेज को मात्र 2 महीनों में 15,000 से लगभग डेढ़ लाख फॉलोवर्स तक पहुंचाना वाकई सराहनीय सफलता है।

यह सोशल मीडिया की ही ताकत है कि कुछ महीनों में ही अंकिता सिंह वो चेहरा, वो पहचान बन गया है जो अब हर बड़े कवि-सम्मेलनों और कार्यक्रमों में अपनी कविताओं-गीतों के साथ गुनगुनाते देखने को मिलता है। आज जब भी वह अपनी फोटो या वीडियो सोशल मीडिया पर साझा करती हैं तो उस पर लाखों लाइक आते हैं, करोड़ों लोग उनके विडिओस को देखते हैं|

आज सोशल मीडिया के जरिए अंकिता सिंह जी को चाहने वालों की संख्या इतनी बढ़ गयी है कि हर कोई उन्हें जानता है, उनके गीत गुनगुनाता है। यूट्यूब और फेसबुक पर लाखों फॉलोवर्स का उनके प्रति प्यार उनकी शुरुआती स्वर्णिम सफलता का प्रतीक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here