जोड़ों में दर्द, डायबिटीज़, ब्लड प्रेशर, कब्ज़ से बचना है तो 50 की उम्र में ज़रूर खाएं ये 8 चमत्कारी चीज़ें

अगर आपकी उम्र 50 की हो गई है…और बढ़ती उम्र के साथ आने वाली बीमारियां जैसे- जोड़ों में दर्द, डायबिटीज़, ब्लड प्रेशर, प्रोस्टेट कैंसर, कब्ज़, बाल सफेद होना, और अस्थमा जैसे रोग परेशान कर रहे हैं तो ये वीडियो हम आपके लिए ही लाएं हैं।

1.फैटी फिश

साल्मन में ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है, इनमें पाए जाने वाले एसिड न सिर्फ इन्फ्लेमेशन की समस्या कम करते हैं, बल्कि रक्त कोशिकाओं में पट्टिका के बढ़ने की गति को भी धीमा करता है, जिससे शरीर में गुड कॉलेस्ट्रोल बढ़ता है और इससे आंतो से जुड़ी सभी बीमारियां खत्म होती हैं साथ ही कैंसर का खतरा भी नहीं रहता है।

2.अंडे

जैसे जैसै व्यक्ति की उम्र बढ़ती है वैसे- वैसे इंसान की मांसपेशियां औऱ हड्डियां कमजोर होने लगती हैं और एक टाइम ऐसा आता है जब व्यक्ति चलने- फिरने लायक भी नहीं बचता है। ऐसे में जिस भी व्यक्ति की उम्र 50 से ज्यादा हो उन्हे रोज़ाना 2 अंडे ज़रूर खाने चाहिए। अंड़ों में प्रोटीन की मात्रा सबसे ज्यादा पाई जाती है, ये मांसपेशियों और हड्डियों को मजबूत करने का एक अच्छा स्रोत है, ये हमारे शरीर में जाकर मसल्स को रिकवर करने का काम करता। इसके अलावा अंडे में शरीर के लिए जरूरी विटामिन-डी और ओमेगा-3 फैटी एसिड भी मौजूद होते हैं इसके अलावा अंडों में वो सभी ज़रूरी तत्व पाए जाते हैं जिनकी ज़रूरत 50 की उम्र के बाद पड़ती है।

3.दूध

50 की उम्र से ज्यादा लोगों को रोज़ाना रात में सोने से पहले 1 गिलास दूध ज़रूर पीना चाहिए, अगर आप दूध में हल्दी डाल देते हैं तो इसका असर दोगुना बढ़ जाता है। रोज़ाना दूध पीने से हड्डियों और मांसपेशियों की कमज़ोरी दूर होती है औऱ घुटनों को भरपूर मात्रा में कैल्शियम मिलता है।

4.चुकंदर

चुकंदर में नाइट्रेट नाम का पोषक तत्व पाया जाता है जो शरीर में शक्ति को बढ़ाने के साथ साथ ब्लड प्रेशर को भी काबू करता है। इसके अलावा चुकंदर दिल को हमेशा जवां और सेहतमंद बनाए रखने का काम करता है। इसमें काफी अधिक मात्रा में पोटैशियम भी पाया जाता है जो ब्लड प्रेशर को रेगुलेट करता है।

5.एवोकाडो

अनियमित जीवनशैली और खानपान में बदलाव के कारण शरीर में कॉलेस्ट्रोल का बढ़ना आम बात है। इस कॉलेस्ट्रोल को काबू करने के लिए हेल्दी फैट से भरपूर एवोकाडो को खाने में शामिल करना चाहिए। एवोकाडो ब्लड प्रेशर को कंट्रोल रखता है साथ ही दिल की बीमारियों से भी बचाव करता है। इसके अलावा जिन लोगों का वज़न ज़रूरत से ज्यादा बढ़ गया है, पेट में किसी भी तरह का इनफेक्शन है तो भी आप एवोकाडो का सेवन कर सकते हैं ये काफी फायदेमंद होता है।  

6.ब्लूबैरी या स्ट्रॉबैरी

ब्लूबैरी व स्ट्रॉबैरी फाइबर का अच्छा स्रोत माना गया है, इसमें ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो हामारे शरीर को फूलने से बचाते हैं इसके अलावा जिन लोगों का वजन ज्यादा है उन्हे रोज़ाना सुबह नाश्ते में ब्लूबैरी का सेवन करना चाहिए इससे वजन काबू में रहता है। इसके अलावा इसमें पाए जाने वाले  एंटीऑक्सीडेंट्स कोशिकाओं को डैमेज होने से बचाती है। इसके साथ ही बढ़ती उम्र में होने वाली बीमारियां जैसे स्किन, ब्लैडर, फेफड़े और गले के कैंसर से भी बचाव होता है।

7.फल और सब्जियां

50 की उम्र में पहुंच चुके लोगों को अपनी डाइट में फलों और हरी सब्जियो को शामिल करना चाहिए। अगर आप नियमित रूप से फल और सब्जियों का सेवन करते हैं, तो पेट से जुड़ी कोई भी परेशानी नहीं होती है।

8.बादाम और अखरोट

बादाम और अखरोट हरेक व्यक्ति को खाना चाहिए। खासतौर पर जिन लोगों की उम्र 50 के पार चली गई है उनके लिए तो बादाम और अखरोट किसी जड़ी बूटी से कम नहीं है। बादाम और अखरोट हड्डियों को मजबूत बनाने का काम करते हैं, इसमें पाए जाने वाले प्रोटीन और हेल्दी फैट शरीर को गरम रखते हैं। इसके अलावा बादाम और अखरोट हमारे ब्रेन फंक्शन के लिए भी ये एक बेहतरीन औषधि है। 50 की उम्र में पहुंचे लोगों को रोज़ाना करीब 6 से 10 बादाम और 3 से 5 अखरोट जरूर खाना चाहिए।

आगे पढ़ें-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here