मध्य प्रदेश में खुलेगा देश का पहला ‘टाइम बैंक’

मध्य प्रदेश में खुलेगा देश का पहला 'टाइम बैंक'

◆ आपका समय करेगा आपकी सहायता: समय की असल कीमत समझने वाली कमलनाथ सरकार की एक अनूठी पहल

◆ जरूरत पड़ने पर टाइम बैंक करेगा लोगों की मदद

कमलनाथ सरकार ने एक अनूठी पहल की घोषणा की है। जिसके अंतर्गत मध्य प्रदेश में देश का पहला टाइम बैंक खोला जाएगा। टाइम बैंक के नियमों के अनुसार स्वैच्छिक जन सेवाओं के बदले लोगों के खाते में उतने ही घंटे जमा होंगे। जिसका लाभ है समय आने पर उठा सकेंगे। राज्य सरकार के आध्यात्म विभाग ने बीते शुक्रवार को इस विषय पर एक आदेश भी जारी किया है।

विगत 10 माह की कमलनाथ ने मध्यप्रदेश में कई परिवर्तन किए हैं। जिनके सकारात्मक परिणाम देखने को मिले हैं। प्रदेश में बेरोजगारी का स्तर कम हुआ है साथ ही महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों में कमी आयी है। और इसके अलावा सरकार ने किसानों के कर्ज माफ कर उन्हें खुशियां भेंट की हैं। अब देखना यह है कि कमलनाथ सरकार द्वारा टाइम बैंक खोलने की इस पहल से प्रदेश वासियों को कितना फायदा होता है।

इस तरह का कार्य करने वाला यह देश का पहला टाइम बैंक होगा। टाइम बैंक में आप जो सेवा देंगे, उसके बदले आपके खाते में उतने ही घंटे जमा कर दिये जायेंगे।जिससे उस व्यक्ति को भविष्य में जरूरत पड़ने पर इन्हीं घंटों के जरिए टाइम बैंक से मदद दी जाएगी। मुख्यमंत्री की ऐसी सोच समाज में कुछ अलग मानचित्र का निर्माण कर रही है। जो आने वाले समय में निश्चित ही इतिहास रचेंगी।

इस योजना का मुख्य उद्देश्य ही लोगों में एक-दूसरे के प्रति सेवाभाव को बढ़ाना है। आपकी की गई मदद एक दिन आपकी समस्या का समाधान करेगी। यदि आप किसी बड़े बुजुर्ग की देखभाल करते हैं, गरीब बच्चों को पढ़ाते हैं, समाज के अन्य कार्यों में हिस्सा लेते हैं तो इसके बदले में टाइम बैंक आपके बहुमूल्य समय को आपके श्रामिक के रूप में आपके खाते में दर्ज कर लेगा ।

अपर मुख्य सचिव मनोज श्रीवास्तव ने कहा कि इस संबंध में सभी जिला कलेक्टरों और राज्य आनंद संस्थान के प्रशासकों को इसकी प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here