आंखों की रौशनी बढ़ाएं, चश्मे से छुटकारा पायें

आँखों की रौशनी बढ़ाएं

हम ऑफिस से लेकर घर तक सभी जगह टेक्नोलॉजी से घिरे हुए हैं। जहां हम ऑफिस में कंप्यूटर और लैपटॉप का इस्तेमाल करते हैं, वहीं घर में देर रात तक स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं। कोरोनावायरस की वजह बंद पड़े स्कूल और कॉलेजों के बच्चों की पढ़ाई भी अब लैपटॉप और मोबाइल में होने लगी है। इसके चलते घंटो तक मोबाइल और कंप्यूटर के आगे बैठना पड़ता है। जिस वजह से हमारी नाजुक-सी आंखों को सबसे ज्यादा नुकसान होता है। इससे हमारी आंखों की रोशनी काफी तेज़ी से कम होती है।

दिनभर लैपटॉप पर मोबाइल पर नजरें गड़ा कर पढ़ना या ऑफिस का काम करने से हमारी आंखों में जलन होने लगती है, आंखों का पानी सूख जाता है और धीरे-धीरे आंखों की रोशनी कम होने लगती है। इस कारण हमें मोटे-मोटे चश्मा पहनने पड़ते हैं। आज हम आपको चश्मा से छुटकारा पाने और आंखों की रोशनी बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपायों के बारे में बताएंगे अगर आप भी अपने चश्मे से परेशान हैं और इसे हटाना चाहते हैं तो यह वीडियो अंत तक जरूर देखें।

चश्मे से छुटकारा पाने के लिए आयुर्वेदिक उपाय

दुनिया भर में ज्यादातर लोग आंखों की रोशनी कम होने की वजह से चश्मा पहनते हैं। आंखों की रोशनी 2 तरीके से कम होती है या फिर हमें दूर का ठीक से नहीं दिखाई पड़ता है या नजदीक का। नजदीक ना दिखाई पड़ने वाली आंखों की बीमारी को मायोपिया और दूर का ठीक से ना दिखाई पड़ने वाली बीमारी को हाय हाईपरोपिया कहा जाता है।

आंखों की रोशनी को नेचुरल तरीके से बढ़ाने के साथी आंखों पर लगे चश्मे से छुटकारा पाने के लिए आपको इन आयुर्वेदिक उपायों को जरूर अपनाना चाहिए। जिनका सेवन करने से आपकी आंखों की रोशनी बढ़ेगी ही नहीं बल्कि पहले से भी ज्यादा बेहतर हो जाएगी । इतना ही नहीं आंखों में होने वाली जलन दर्द, आंखों से पानी आना जैसी बीमारियों से भी आपको जल्दी छुटकारा मिल जाएगा, तो चलिए जानते हैं आयुर्वेदिक उपायों के बारे में –

एलोवेरा और शहद

जिन लोगों की आंखों में जलन रहती है या आंखों में खुजली होती है तो ऐसे लोगों को एलोवेरा और शहद का सेवन जरूर करना चाहिए। एलोवेरा जहां हमारे चेहरे की खूबसूरती बढ़ाता है वहीं यह हमारी आंखों की रोशनी को भी तेज करने में मदद करता है। एलोवेरा के साथ शहद मिलाकर इसका सेवन करने से आंखों की रोशनी बढ़ती है। तो चलिए जानते हैं एलोवेरा का जूस बनाने का सही तरीका जिससे हम अपनी आंखों की रोशनी बढ़ा सकते हैं। दो छोटे चम्मच एलोवेरा जेल या जूस के साथ 2 छोटे चम्मच शहद और आधा नींबू का रस लें। इन सभी चीजों को मिक्सर में अच्छी तरह पीस लें और फिर उसमें एक गिलास पानी डाल कर अच्छे से मिलाएं।

इस मिश्रण को छान कर अलग कर लें। फिर इस जूस का सेवन करें । यह जूस आपकी आंखों की रोशनी को तेज करेगा साथ ही आंखों की बाकी समस्याओं से भी छुटकार दिलाएगा। ध्यान रहे इस जूस का सेवन आपको खाना खाने की कम से कम आधे घंटे पहले करना है इससे आपको जल्द ही फायदेमंद होगा । आप 1 दिन में दो गिलास एलोवेरा और शहद से बने इस जूस का सेवन कर सकते हैं। लगातार ऐसा 15 दिनों तक करने पर आपको आंखों की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा और रोशनी आंखों की रोशनी में भी फर्क नजर आने लगेगा।

त्रिफला और काली मिर्च

आंखें हमारे शरीर का बहुत ही नाजुक हिस्सा होती हैं। जिनकी देखभाल करना बहुत ही जरूरी हो जाता है नहीं तो, हमें आंखों से संबंधित कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसके चलते आंखों की रोशनी भी कम हो जाती है और हमें मोटे मोटे चश्मे लगाने पड़ते हैं । आंखों की रोशनी को बढ़ाने के लिए काली मिर्च और त्रिफला का सेवन करने से फायदा मिलता है। 50 ग्राम त्रिफला को रात भर एक गिलास पानी में भिगोकर रख दें।

अगली सुबह दो चम्मच गाय के घी को एक पैन में डालकर गर्म करें और फिर इसमें तीन से चार काली मिर्च का पाउडर बना कर डालें । ध्यान रहे इसे धीमी आंच में पकाना है और थोड़ी देर बाद रात भर भीगे त्रिफला को इस मिश्रण में मिला दें। फिर धीमी आंच में इसे 10 से 15 मिनट के लिए पकाएं। आप चाहे तो इसमें अपने स्वाद के अनुसार सेंधा नमक भी मिला सकते हैं। ठंडा होने पर इसका सेवन करें। लगातार कम से कम 3 महीने तक त्रिफला और कालीमिर्च का ऐसा सेवन करने से आपकी आंखों की रोशनी बढ़ने लगेगी।

मुंह की लार

चश्मे को हटाने के लिए सबसे आसान और सस्ता आयुर्वेदिक तरीका है- मुंह की लार। यह भले ही सुनने में थोड़ा अटपटा लगे लेकिन आयुर्वेद में सुबह के समय मुंह की लार को किसी रामबाण औषधि से कम नहीं माना गया है। मुंह की लार में कई एंटीबायोटिक गुण होने के साथ ही इसमें कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं जो हमारी चोट या किसी बीमारी को जल्दी ठीक करने के लिए फायदेमंद होता है। इसके लिए रोज सुबह उठकर बिना कुल्ला किए मुंह की लार यानी सलाइवा को अपनी आंखों में काजल की तरह लगाएं ।

ऐसा आपको लगातार कम से कम 3 महीने तक करना है। इसके बाद आपकी आंखों का नंबर धीरे-धीरे कम होने लगेगा और आपकी आंखों की रोशनी बढ़ने लगेगी और आपको जल्दी चश्मे से छुटकारा मिल जाएगा।

बादाम और गाय का दूध

आंखों से चश्मा हटाने के लिए बादाम और गाय के दूध का सेवन करना लाभकारी होता है । इससे आंखों में होने वाली जलन दर्द खुजली या आंखों से पानी आने जैसी समस्या से जल्दी छुटकारा पाया जा सकता है । आयुर्वेद में बादाम और गाय के दूध को औषधि के तौर पर प्रयोग किया जाता है ।जहां बादाम में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं, वहीं गाय के दूध में भरपूर मात्रा में प्रोटीन और विटामिन पाया जाता है। रात को एक गिलास पानी में कम से कम तीन से चार बादाम भिगोकर रख दें और अगली सुबह उठकर एक गिलास गर्म गाय के दूध के साथ भीगे हुए बादाम को धीरे-धीरे चबा चबा कर खाएं ।

यदि आप बादाम को चबाकर नहीं खाना चाहते हैं तो आप भीगे हुए बादाम को कूटकर दूध को उबालकर समय उसमें डाल दें और दूध हल्का गुनगुना होने पर उसका सेवन करें। अगर आप भीगे हुए बादाम की जगह सूखे बादाम के पाउडर का इस्तेमाल कर रहे हैं तो ध्यान रहे गाय के दूध में केवल दो बादाम का पाउडर ही मिलाएं और फिर इसका सेवन करें। दो से ज्यादा सूखे बादाम का पाउडर ना मिलाएं। लगातार ऐसा करने से आपको जल्द ही आंखों की समस्याओं से छुटकारा मिल जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here